जन्मदिन मुब़ारक हो !💐🎂💐

वो आती, इठलाती, बलखाती

दो बात दिलों का कर जाती ।

जब भी मिलती चौराहे पर

या मिलती, चलते किसी राहों पर

वो हाय !🙋 सबको कर जाती ।

बन तितली क्लास में  वो

मन सबका बहलाती ।

नटखट  बच्चों सा है मन उसका

जो चाहे पहन वो लिबास

क्लास में  आ जाती ।

चाहे जिस रंग का हो

लाल, हरा, गुलाबी या पीला

कोमल अधरों पर अपनी

वो लाली जरूर लगाती ।

जब भी होती मुलाकात उससे

किसी दुकान पर

या कालेज के मैदान पर

अपनी थैली से निकाल मुंगफली

वो हमसबको खिलाती ।

हिरणी जैसी चाल है उनकी

रेशम जैसी बाल  है उनकी

कोयल जैसी हरदम वो चिल्लाती ।

मस्ती की बातें करती जब सखियाँ उनसे

पंकज जैसे वो खिल आती ।

जो भी हो , जैसी भी हो तुम

बन ज्योत्सना काली रातों की

हम सबको हो चमकाती ।।

#तुम्हारा सहपाठीगण

(दिल्ली विवि)

जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं !💐🎂💐

तुम जियो हजारों साल, साल के दिन हो 50 हजार😊😊😊

 

 

 

 

2 thoughts on “जन्मदिन मुब़ारक हो !💐🎂💐”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat